CBSE Class 12 Business Studies 02

CBSE Class 12 व्यवसाय अध्ययन
Sample Paper 02

समय : 3 घण्टे
अधिकतम अंक : 80

सामान्य निर्देश:-

  1. इस प्रश्न पत्र में 5 भाग है, अ, ब, स, द और ई
  2. भाग अ एक-एक अंक वाले 20 प्रश्न है।
  3. भाग ब में 3-3 अंक वाले 5 प्रश्न है।
  4. भाग स में 4-4 अंक वाले 3 प्रश्न है।
  5. भाग द में 5-5 अंक वाले 3 प्रश्न है।
  6. भाग ई में 6-6 अंक वाले 3 प्रश्न है।

भाग-(अ)

  1. ________ किसी विशेष गतिविधि को करने का संपूर्ण विवरण देता है।
    1. कार्यविधि
    2. बजट
    3. कार्यक्रम
    4. विधि/पद्धति
  2. प्रबंध के सिद्धांत प्रबन्धकों को अपने निर्णयों एवं कार्यों में कारण एवं परिणाम के संबंध का पूर्वानुमान लगाने के योग्य बनाते हैं कि ताकि परीक्षण एवं त्रुटि दृष्टिकोण से संबंधित क्षतियों को दूर किया जा सके। यहाँ प्रकाशित प्रबंध के सिद्धांतों के महत्त्व के बिन्दु को पहचानिए।
  3. प्रबंध के ________ स्तर पर निर्देशन आवश्यक है।
    1. उच्च
    2. मध्य
    3. निम्न
    4. सभी
  4. प्राथमिक बाजार ________ प्रतिभूतियों से जुड़ा हुआ है?
    1. पुरानी
    2. पुरानी एवं नई
    3. नई
    4. बहुत पुरानी
  5. संगठन को परिभाषित कीजिए।
  6. जन संपर्क का क्या अर्थ है?
  7. विपणन की किस अवधारणा के अंतर्गत, उत्पादन की लागत की न्यूनतम तक लाने का प्रयास किया जाता है?
    1. उत्पादन अवधारणा
    2. उत्पाद अवधारणा
    3. विपणन अवधारणा
    4. बिक्री अवधारणा
  8. महिमा जैन कोड्स लिमिटेड के परामर्शी सेवा विभाग में वरिष्ठ प्रबंधक है। वह मूल्यांकन के एक भाग में रूप में नियमित रूप से अपने अधीनस्थों की निष्पादन रिर्पोर्ट तैयार करती है। उसके द्वारा निष्पादित किए जाने वाली नियंत्रण प्रक्रिया के चरण में पहचानिए।
    1. विचलनों का विश्लेषण
    2. प्रगति प्रमापों का निर्धारण
    3. प्रगति प्रमापों का निर्धारण
    4. वास्ताविक प्रगति की प्रमापों से तुलना
  9. प्रबंधन की किन्हीं दो महत्त्वपूर्ण विशेषताओं के नाम बताइए?
  10. एन.एस.ई. में निपटान चक्र ________ है।
    1. टी + 5
    2. टी + 2
    3. टी + 3
    4. टी + 1
  11. विनोद कार्गो लिमिटेड नोएडा में प्लांट सुपरवाइजर के रूप में काम कर रहा है पदानुक्रम में उसके पद में कोई बदलाव किए बिना उसके कार्यस्थल को गुरुग्राम में बदल दिया गया। अवधारणा की पहचान कीजिए।
    1. पदोन्नति
    2. प्रशिक्षण
    3. अस्थाई अलगाव
    4. स्थानांतरण
  12. निर्देशन के उस तत्व का नाम बताइए जो पारस्परिक उद्देश्यों के लिए स्वेच्छा से प्रयास करने के लिए लोगों को प्रभावित करने की क्षमता को संदर्भित करता है।
  13. ‘नीतियाँ’ तथा ‘क्रियाविधियाँ’ किस प्रकार अन्तः संबंधित हैं?
  14. ‘संगठन प्रबंधन का एक तंत्र है’। यह कथन क्या दर्शाता है?
  15. लोग सोचते हैं कि केवल ‘उत्पाद’ का ही विपणन हो सकता है। परन्तु इसके अतिरिक्त किसी और का विपणन भी हो सकता है जिसे ‘स्वास्थ्य पर्यटन’ के लिए केरल पधारिएँ। पहचानिए, यहाँ किसका विपणन हो रहा है।
    1. स्थान
    2. विचार
    3. व्यक्ति
    4. सेवाएँ
  16. ‘सकल कार्यशील पूंजी’ से क्या अभिप्राय है?
  17. यह नियोक्ता और प्रार्थी के बीच मुख-मुद्रा बातचीत है।
    1. चयन
    2. भर्ती
    3. साक्षात्कार
    4. नियुक्तिकरण
  18. रवि जैन नाथ ट्रेडर्स का मुख्य कार्यकारी अधिकारी था। वह विज्ञापन पर होने वाले अत्यधिक व्यय के बारे में चिंतित था। उसने अपने वित्तीय प्रबन्धक, मोहित वर्मा को कहा कि वह इस व्यय के बारे में विक्रय प्रबन्धक व उसकी टीम के विचार जाने। चाय-अवकाश के बाद मोहित वर्मा विक्रय प्रबन्धक व उसकी टीम के साथ बैठक करने के बारे में सोच रहा था। लेकिन, संयोग से चाय-अवकाश के सयम मोहित वर्मा कैंटीन में विक्रय प्रबन्धक व उसकी टीम से मिला। उन सभी ने इस व्यय के बारे में चर्चा की और अंततः इस व्यय को कम करने का सुझाव दिया।
    संगठन के उस प्रकार को पहचानियए जिसने वित्तीय प्रबन्धक मोहित वर्मा, विक्रय प्रबन्धक व उसकी टीम को इस सुझाव को अंतिम रूप देने में मदद की।

    1. औपचारिक ढ़ांचा
    2. (i) और (iii) में से कोई नहीं
    3. अनौपचारिक ढांचा
    4. (i) और (iii) दोनों
  19. कमल एक लेपटॉप निर्माणी कम्पनी ‘सोकिया लिमिटेड’ की असेम्बली इकाई में टोली नायक रूप में कार्य कर रहा है। वह दस प्रशिक्षित कामगारों का पर्यवेक्षण कार्य करता है, जो लेपटॉप की विभिन्न प्रकार की असेम्बली गतिविधियों का निष्पादन करते हैं। एक दिन जब वह कामगारों के कार्य का पर्यवेक्षण कर रहा था, उसने एक कामगार अशोक को कहा कि उसके कार्य में सुधार लाया जा सकता है। अशोक ने कमल की टिप्पणी को समझा कि उसका कार्य अच्छा नहीं था।
    इस स्थिति में प्रभावी संप्रेषण की बाध के प्रकार की पहचान कीजिए।
  20. वित्तीय प्रबंध का प्राथमिक उद्देश्य क्या है ?

खण्ड (ब)

  1. प्रबंध के सिद्धांतों की किन्हीं तीन विशेषताओं को समझाइए?
  2. कविता घई लखनऊ कि ‘हेल्दी किचन’ नाम के एक रेस्तराँ की प्रबन्ध निदेशक थी। रेस्तराँ ठीक प्रकार से कार्य कर रहा था तथा कार्य की मात्रा धीरे-धीरे तथा स्थायी रूप से बढ़ रही थी। कविता घई स्वयं सारे कार्य को संभालना उसके लिए अव्यावहारिक हो गया था। साथ ही उसका उद्देश्य अन्य स्थानों पर इस रेस्तराँ की अधिक शाखाएं खोलना था।
    उसने निखिल गुप्ता को ‘हेल्दी किचन’, लखनऊ के एक सामान्य प्रबन्धक के रूप में नियुक्त किया तथा उसे अपने पद की सीमाओं के अन्तर्गत अपने अधीनस्थों को आदेश देने तथा कार्यवाही करने का अधिकार भी दिया। रेस्तराँ के सुचारू संचालन के लिए उसने उसे आवश्यकताओं के अनुरूप कर्मचारियों को नियुक्ति एवं प्रशिक्षण का अधिकार भी दिया। कविता घई, निखिल गुप्ता के कार्य से संतुष्ट थी और आगरा तथा कानपुर में भी इस रेस्तराँ की शाखाएँ खोल सकी।

    1. कविता घई द्वारा अपनाई गई अवधारणा को पहचानिए जिसने उसे रेस्तराँ की नई शाखाएँ खोलने में मदद की।
    2. उपर्युक्त (i) में पहचानी गई अवधारणा के महत्त्व के दो बिन्दुओं को संक्षेप में समझाइए।
  3. कर्मचारियों को प्रशिक्षण से होने वाले के किन्हीं तीन लाभों को समझाइए?
    अथवा

    ‘अपवाद द्वारा प्रबंध’ को एक उदाहरण सहित समझाइए।

  4. ‘लेबलिंग’ के किन्हीं तीन कार्यों का उल्लेख कीजिए?
  5. स्टीलोन एन्टप्राइजेज उच्च गुणवत्ता वाले स्टील के बर्तनों के निर्माता है। स्टील के बर्तनों की मांग बढ़ रही है कि प्लास्टिक स्वास्थ्य के लिए अच्छी नहीं है। इससे स्टील के बर्तनों के उत्पादन में वृद्धि हुई है। विक्रय को बढ़ावा देने के लिए स्टीलोन एन्टरप्राइजेज ने एक उदार साख (क्रेडिट) नीति की घोषणा की जो इसके थोक क्रेताओं को तीन माह की सास देती है।
    उपर्युक्त के प्रकाश में स्टीलोन एन्टरप्राइजेज की कार्यशील पूंजी आवश्यकताओं को प्रभावित करने वाले दो कारकों की पहचान कीजिए। कारण सहित उल्लेख कीजिए कि उपर्युक्त पहचाने गए कारकों के परिणामस्वरूप कार्यशील पूंजी की आवश्यकता अधिक होगी या कम।

खण्ड-(स)

  1. मुद्रा बाजार तथा पूंजी बाजार में निम्न आधार पर अंतर स्पष्ट कीजिए:
    1. संभावित प्रतिफल
    2. सुरक्षा
    3. तरलता
    4. प्रपत्र
  2. एक उत्पाद के मूल्य-निर्धारण को प्रभावित करने वाले किन्हीं चार कारकों को समझाइए।
    अथवा

    ऐसी किन्हीं आठ राहतों का उल्लेख कीजिए जो उपभोक्ता को उपलब्ध हैं यदि अदालत शिकायत की यथार्थता से संतुष्ट हो।

  3. ‘स्मार्ट स्टेशनरी लिमिटेड’ अपने नए प्रोजेक्ट के लिए ₹ 40,00,000 के कोष एकत्रित करना चाहती है। इस राशि को एकत्रित करना चाहती है। इस राशि को एकत्रित करने के लिए प्रबन्धन ऋण तथा समता के निम्नलिखित मिश्र के बारे में सोच रहा है:
    पूँजी ढाँचा विकल्प
    I (₹) II (₹) III (₹)
    समता 40,00,000 30,00,00 10,00,000
    ऋण 0 10,00,000 30,00,000

    अन्य विवरण निम्नलिखित हैं:

    ऋण पर ब्याज दर 9%
    समता अंशो का अंकित मूल्य ₹ 100 प्रति
    कर दर 30 %
    ब्याज एवं कर से पूर्व आय (EBIT) ₹ 8,00,000
    1. तीनों विकल्पों में से किस विकल्प के अन्तर्गत कम्पनी समता पर व्यापार का लाभ उठा सकती है?
    2. क्या ऋण में वृद्धि के साथ प्रति अंश आगम में हमेशा वृद्धि होती है?

खण्ड-(द)

  1. प्रबंध विभिन्न उद्देश्यों को प्राप्त करना चाहता है; इन उद्देश्यों को समझाइये?
    अथवा

    ‘समन्वय समान उद्देश्यों की प्राप्ति में सामूहिक प्रयासों को एकता प्रदान करने का व्यवस्थित आयोजन है’ इस कथन के संदर्भ में, समन्वय की किन्हीं पाँच विशेषताओं को समझाइए।

  2. ‘एंटरटेमेंट इंडिया लिमिटेड’ का निगमन त्यौहारों कार्यक्रमों तथा देश की इसी प्रकार की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत से संबंधित अन्य गतिविधियों का आयोजन कर लोगों का मनोरंजन करने के उद्देश्य से किया गया है। कंपनी के प्रबंधन में कला, साहित्य तथा सांस्कृति में संबंधित प्रसिद्ध व्यक्तित्व है। उन्होंने यह निर्णय लिया है कि वे उभरते हुए यह निर्णय लिया है कि वे उभरते हुए युवा संगीतिज्ञों कवियों तथा कलाकारों को एक मंच प्रदान करेंगे। कम्पनी ने अपनी संगठनात्मक संरचना का निर्धारण एक जैसी क्रियाओं का समूहन करके किया है। इसके पश्चात् विभिन्न विभागों के प्रमुखों की नियुक्ति भी कर दी गई है। निशा ने जो एक विभागीय प्रमुख है, नियुक्त किए जाने वाले व्यक्तियों की संख्या, प्रकार तथा आवश्यक योग्यता का विश्लेषण कर लिया है।
    उपर्युक्त चर्चित प्रक्रिया को करने के लिए निशा द्वारा निष्पादित किए जाने वाले 6 चरणों को समझाइए।
  3. सुमन एक सेण्डविच टोस्टर क्रय करना चाहती थी। उसने ऑन-लाइन उपलब्ध विभिन्न सेण्डविच टोस्टरों की जाँच की तथा मूल्यों की तुलना की ताकि एक बुद्धिमत्तापूर्ण तथा ज्ञानपूर्ण निर्णय लिया जा सके। इसके पश्चात् वह पास के एक बाज़ार में सेण्डविच टोस्टर खरीदे गई। एक सुविज्ञ ग्राहक के नाते उसने सही मानकीकरण चिह्न देखा। दुकानदार ने उसे विभिन्न टोस्टर दिखाए लेकिन वह ऑन-लाइन जाँच किए गए मूल्य से अधिक मूल्य बता रहा था। दुकानदार से बातचीत करने के पश्चात् वह मूल्य को कम कराने में सफल हुई। एक उत्तरदायी उपभोक्ता की तरह उसने उत्पाद के लिए भुगतान की गई राशि के बदले में कैश मेमो की माँग की तथा टोस्टर को घर ले गई। पैकेज खोलने पर उसे एक निर्देशन पुस्तिका मिली, जिसको उसने सवधानीपूर्वक पढ़ा। इसके पश्चात् उसने हर निर्देशन का एक-एक करके अनुसरण किया तथा अपने परिवार के लिए अच्छी तरह से टोस्ट किए गए पनीर सेण्डविच बनाए।
    1. कैश मेमो की माँग के अतिरिक्त सुमन द्वारा निभाए गए किन्हीं दो उत्तरदायित्वों का उल्लेख कीजिए।
    2. उपर्युक्त स्थिति में चर्चित किन्हीं दो अधिकारों को समझाइए।

खण्ड-(ई)

  1. प्रबंध के नियंत्रण कार्य के महत्त्व को प्रकाशित करने वाले किन्हीं छः बिंदुओं पर चर्चा कीजिए।
    अथवा

    कर्मचारियों के निष्पादन में सुधार में लिए उन्हें अभिप्रेरित करने में प्रयुक्त किन्हीं छः गैर-मौद्रिक अभिप्रेरकों का वर्णन कीजिए?

  2. ‘अपेक्षित लक्ष्यों की प्राप्ति के लिए संगठन प्रक्रिया में शृंखलाबद्ध चरण सम्मिलित है। इन चरणों को समझाइए।
    अथवा

    ‘कार्यवाही की वैकल्पिक विधियों की पहचान’ के बाद नियोजन प्रक्रिया के चरणों को समझाइए।

  3. भारतीय हस्तकला विरासत इसके रीति-रिवाजों तथा परम्पराओं के कारण जीवित है। राजस्थान, गुजरात, असम, इत्यादि के हस्तशिल्पियों द्वारा बनाए गए हस्तकला उत्पाद न केवल देश में उपयोग किए जाते हैं अपितु सं.रा. अमेरिका, जर्मनी, यू.के., फ्रांस तथा विश्व के अन्य देशों में भी निर्यात किए जाते हैं। इन उत्पादों के निर्यात की मात्रा से भारत को भुगतान संतुलन तथा अत्याधिक आवश्यक विदेशी मुद्रा का लाभ मिलता है। प्रधान मंत्री चाहते हैं कि हस्तकला उद्योग को तकनीकी के साथ जोड़कर इसका विस्तार किया जाए। इसका केन्द्र बिन्दु निर्माणी प्रक्रिया को परिवर्तित करना, टिकाऊपन को सुनिश्चित करना तथा नवप्रवर्तनों को अपनाना होना चाहिए। उपर्युक्त अनुच्छेद से पंक्तियों को उद्धृत करते हुए व्यावसायिक पर्यावरण के किन्हीं चार आयामों को समझाइए।
X